webduniyahindi | गंजेपन का इससे बेहतर इलाज नहीं मिलेगा कहीं
1168
post-template-default,single,single-post,postid-1168,single-format-standard,ajax_fade,page_not_loaded,,qode-title-hidden,qode_grid_1300,hide_top_bar_on_mobile_header,qode-content-sidebar-responsive,qode-theme-ver-17.2,qode-theme-bridge,qode_header_in_grid,wpb-js-composer js-comp-ver-5.6,vc_responsive

गंजेपन का इससे बेहतर इलाज नहीं मिलेगा कहीं

गंजेपन का इससे बेहतर इलाज नहीं मिलेगा कहीं 

 

 

अच्छे बाल भगवान की दी हुई एक नेमत होती है जो किसी भी इंसान की खूबसूरती में चार चाँद लगा देते हैं ,अगर किसी के बाल कम  उम्र में झड़ जाये तो उस शख्स के पास सबकुछ होते हुए भी कही न कही कमी रह जाती है ,वो इंसान अपनी उम्र से कहीं ज्यादा दिखाई देता है ,उससे कई प्रकार के नाम से पुकारा जाने लगता है ,वो कई बार मजाक का पात्र बन जाता है ,उसमे एक हीन भावना और कुंठा आने लगती है असलियत में गंजापन एक बहुत बड़ा दर्द होता  है ,एक ऐसा दर्द जो अक्सर अपने यार दोस्त ,पडोसी या रिश्तेतार ही  देते हैं।

गंजापन ,बाल सफ़ेद होना ,बाल पतले होना ,असमय बालो का गिरना आदि बालो की बीमारिया किसी ना किसी रूप में हर इंसान में होती हैं ,इसके लिए हमारा अनियमित खान पान ,रहन सहन ,पोलुशन ,टेंशन ,रक्त संचार में कमी ,हेरीडिटी यानि अनुवांशिकता तथा शरीर में जरूरी पोषक तत्वों की कमी की वजहों से होती हैं।

महंगे शैम्पू ,कंडीशनर और केमिकल युक्त आयल समस्या को और अधिक बढ़ाने का काम करते हैं,लोग समस्या की जड़ में जाने की बजाए बालों को नुकसान करने वाले केमिकल्स  खरीदने पर ध्यान देते हैं जो कुछ फायदा नहीं करते बल्कि सिरदर्द ,आँखे कमजोर होना ,स्कैल्प की खाल को रुखा करके झुर्री बना देने जैसे साइड इफेक्ट्स पैदा कर देते हैं। कुछ लोग तो बाल पाने  के लिए बालों के रोपण यानि हेयर ट्रांसप्लांटेशन करवाने  लगे हैं जिससे लाखो के नुकसान के अलावा खोपड़ी की जरूरी नसों के साथ भी छेड़छाड़ करवा बैठते हैं। जबकि हमारे घर की रसोई में भी बहुत से ऐसे इंक्रिडिएंट्स होते हैं जो बालों को दुबारा ऊगा सकते हैं ,इनके रिजल्ट शानदार होते हैं,इनके साइड इफेक्ट्स नहीं होते और ये इनकी कॉस्टिंग बाजारू ऑयल्स से चौथाई से भी कम होती है ,आइये आज आपको  ऐसे ही तीन बेहतरीन उपचार बताते हैं जो गारंटी से आपके बालों को दुबारा ऊगा देंगे भले ही आप पचपन साल के हो गए हो,आप महिला हो या पुरुष हो, और आपके बाल किसी भी कारन से क्यों न झड़े हों।

1 तेल बनाने के लिए आवश्यक सामान एवं विधि (दो चम्मच कलौंजी ,आधा नीबू ,दो चम्मच ओलिव आयल ) ये तीनो चीजे आपकी रसोई या पड़ोस के किराने की दुकान पर आसानी से मिल जाती हैं। कलौंजी को हल्की आग पर तवे पर जीरे की तरह  भून लें ,भून कर पीसलें ,अब पीसी हुई कलौंजी में आधा निम्बू निचोड़ लें और दो चम्मच ओलिव आयल डाल कर ठीक से मिला लें। हो गयी आपकी दवा तैयार। इसे शीशी में भरके फ्रिज में एक सप्ताह तक रख सकते हैं। एक  प्याज के ऊपर के एक पतले कटे पीस को इस दवा में डुबाकर सिर में लगाना चाहिए। ये दवा सप्ताह में दो तीन बार सिर में लगाएं और हर बार एक घंटा लगाके शेम्पू से धो लें। ये एक बेहतरीन नुख्सा है ,इसे निश्चिन्त होकर इस्तेमाल करे ,चौकाने वाले रिजल्ट  मिलेंगे।

2 तेल बनाने का सामान और विधि (आधा चम्मच शहद ,तीन चम्मच अदरक का जूस ,एक चम्मच नारियल का तेल )ये एक बहुत ही शानदार नुख्सा है और बनाने में बहुत ही आसान भी। पहले एक कटोरी में आधा चम्मच शहद डाले ,उसमे अदरक का जूस और गोले का तेल (गोले के तेल की जगह तिल या भृंगराज का तेल भी इस्तेमाल कर सकते हैं ) डालकर तब  तक घुमाये  जब तक ये ठीक से मिल ना जाये। इससे अपनी उंगलियों से सिर के उस हिस्से में लगाके जहा से बाल उड़ रहे हैं ,हल्की उंगलियों से कुछ देर मालिश करे ,ये आपके सिर की धमनियों में रक्त संचार को बढ़ा देगी ,स्कैल्प थोड़ी लाल भी हो सकती है, जो इस बात का प्रमाण  होगा कि दवा ठीक काम कर रही है।

3 तेल बनाने के लिए आवश्यक सामान और विधि (दो सौ ग्राम नारियल का तेल ,एक बड़ा ततैये अर्थात YELLOW BEE का इस्तेमाल किया हुआ छत्ता ,गुड़हल या बेरी के पत्तों का 200 ग्राम रस )नारियल का तेल आसानी से प्राप्त हो जाता है ,ततैया या भिड़  का छत्ता आमतौर से गॉवो में प्राप्त हो जाता है और गुड़हल का पौधा या खाने वाले बेर के पेड़ भी मिल जाते हैं ,गुड़हल या बेरी के पत्ते इकट्ठे करके उनका 200 ग्राम रस निकल ले ,अब इन तीनो चीजों हो एक बर्तन में डाल  कर हल्की आग पर पकाये। जब ये मिश्रण उबल के आधा रह जाये तो इसे ठंडा करके एक साफ़ शीशी में छान लें। आपका आयल तैयार हो चूका है। ये एक महीने तक चलेगा। इसे रोजाना अपनी सुविधानुसार अपनी स्कैल्प पर लगाकर एक दो मिनट मस्साच करें।

किसी भी नुख्से से अच्छे रिजल्ट पाने के लिए ये सलाह दी जाती है कि बीड़ी सिगरेट और शराब को अवॉइड करें। ज्यादा तले भुने और जंक फ़ूड की जगह हरी सब्जियों और फलों को खाने में जगह दे ,टेंशन और पोलुशन से बचें और रिजल्ट पाने के लिए सय्यम रखें।

Loading Facebook Comments ...
No Comments

Post A Comment