webduniyahindi | चावल के पानी (मांड) के फायदे
598
post-template-default,single,single-post,postid-598,single-format-standard,ajax_fade,page_not_loaded,,qode-title-hidden,qode_grid_1300,hide_top_bar_on_mobile_header,qode-content-sidebar-responsive,qode-theme-ver-17.2,qode-theme-bridge,qode_header_in_grid,wpb-js-composer js-comp-ver-5.6,vc_responsive

चावल के पानी (मांड) के फायदे

चावल के पानी (मांड) के फायदे

चावल के पानी (मांड) के फायदे

चावल के पानी (मांड) के फायदे

 

खाने में चावल खास है। और उससे भी खास है उसका पानी यानी मांड। सेहत के लिए भी ,सौंदर्य के लिए भी। यह आपको डिहाईड्रेशन से भी बचाता है। चावल का पानी यानी मांड को अक्सर महिलाएं स्टार्च के चक्कर में फेक देती हैं। वैसे गांव -घरो में आज भी मांड में नमक या चीनी मिलाकर पीते हैं। यह अलग बात है कि उनको इससे होने वाले फायदे की जानकारी कम हो। चावल में विटामिन A ,B कॉम्लेक्स समेत कुछ मिनरल्स भी होते हैं। ऐसे में जब हम चावल को पकाते हैं या पानी में भिगोते हैं ,तो उसमे कुछ विटामिन और मिनरल्स पानी में मिक्स हो जाते हैं। इसी गुण के कारण मांड  भी सेहतमंद हो जाता है। पश्चिम बंगाल ,पूर्वेत्तर के कुछ इलाकों में तो लोग चावल को एक से दो दिन के लिए पानी में भिगोकर फर्मेटेशन करते हैं। फिर इस पानी को छान कर फ्रिज में रख देते हैं। इसे माइल्ड एनर्जी ड्रिंक के रूप में सेवन करते हैं। इससे कुकिंग इफेक्ट मिलता है। यानी कार्बोहाइड्रेट युक्त चावल का पानी तुरंत एनर्जी देने वाला होता है। इसको पीने से शरीर में स्फूर्ति बनी रहती है।

शरीर के तापमान को नियंत्रित रखने के साथ यह डिहाइड्रेशन की समस्या से भी बचाता है। इसलिए गावों में लोग बुखार में मांड पीते हैं। एक तो यह आपको इंफेक्शन से बचाता है और साथ ही शरीर के तापमान को नियंत्रित करता है। गर्मियों में लू से बचाव के लिए भी लोग मांड का सेवन करते हैं। जिन लोगों को पेट से संबंधित समस्या रहती है ,विशेष कर कब्ज या गैस की समस्या,उन्हें चावल का मांड अवश्य लेना चाहए। पेट को ठंडक देने के साथ यह खाना पचाने में भी मददत करता है।

अक्सर सेडियम कम होने के कारण यह हाई ब्लूडप्रैशर और हइपरटेशन से पीड़ित लोगों के लिए भी अच्छा आहार माना जाता है जो महिलाएं सफेद पानी की समस्या से परेशान हैं, उन्हें चावल का मांड दिन में दो बार लेना चाहिए। इससे काफी आराम मिलता है।

 

ब्यूटी के लिए

 

चावल के पानी (मांड) के फायदे

चावल के पानी (मांड) के फायदे                                                                                                                                                     

चेहरे पर चमक पाने के लिए भी चावल के पानी का इस्तमाल कर सकती हैं। कॉटन में चावल के पानी लेकर चेहरे पर 15 -20 मिनट तक रखे और फिर धो लें। इस उपाय को दिन में दो बार करें। इससे कील -मुंहासे भी ठीक हो जाते हैं। चावल में नेचुरल एंटीऑक्सिडेंट्स जैसे विटामिन C ,A ,फिनॉलिक और फ्लेवेनॉयड तत्व होते है,जो न सिर्फ झुर्रियों की समस्या को कम करते हैं, बल्कि प्रदूषण से भी त्वचा को बचाते हैं।

चावल के पानी या मांड से नियमित रूप से चेहरे को धोने से त्वचा पर निखार आता हैं।

कहीं -कहीं महिलाएं बालों को लम्बा करने और चमक बढ़ाने के लिए फर्मेटेड राइस वाटर का इस्तमाल करती हैं।  वहीं जापान में भी इसका इस्तमाल बालों को मजबूत करने के लिए किया जाता है। पतले बालों की समस्या से परेशान है , तो चावल के पानी को अपने बालों म लगाकर 20 मिनट के लिए छोड़ दें। फिर किसी अच्छे शैम्पू से बालों को धो लें। इससे बालों की चमक भी बढ़ती है। इससे बाल मजबूत भी होते हैं। बालों को ज्यादा पोषण देने के लिए इसमें रोज़मैरी ,लैवेंडर या टी ट्री जैसे असेंशियल ऑयल्स मिलाएं।

रुसी से निजात पाने के लिए मांड में शिकाकाई पाउडर मिला लें। इसे बालों में कुछ देर रखने के बाद साफ पानी से बालों को धो लें।

Loading Facebook Comments ...
No Comments

Post A Comment